Aawaz24 News
Aawaz24.com

BREAKING NEWS

खून की कमी दूर कर इम्यूनिटी बढ़ाता है खजूर का सेवन, बच्चे को खिलाते समय ध्यान रखें ये बातें

0 6,767,566

Health Benefits Of Dates For Babies: बच्चे के विकास में मां का दूध महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। बावजूद इसके शिशु को जन्म के कुछ समय बाद ही अपने शारीरिक और मानसिक विकास के लिए मां के दूध के साथ अन्य पौष्टिक तत्वों की भी जरूरत पड़ने लगती है। ऐसी ही पौष्टिक चीजों में खजूर का भी नाम शामिल है। खजूर में प्रोटीन, फैट, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, पानी, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटेशियम, सोडियम, जिंक, कॉपर, विटामिन बी, विटामिन के, विटामिन ए, कैरोटीन, मैग्नीज, थियामिन, नियासिन आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो शिशु को कई रोगों से दूर रखते हुए उसके विकास में अहम भूमिका निभा सकता है। आइए जानते हैं शिशु की डाइट में खजूर शामिल करने से होते हैं क्या फायदे और क्या है बच्चों को खजूर खिलाने का सही तरीका।

बच्चों को खजूर खिलाने से मिलते हैं ये फायदे-
मजबूत हड्डियां-
खजूर में मौजूद कैल्शियम कमजोर हड्डियों को मजबूत बनाने का काम करता है। यही वजह है कि बच्चों की हड्डियों के विकास के लिए उन्हें खजूर खिलाने की सलाह दी जाती है।

एनीमिया से बचाव –
शरीर में खून की कमी पूरी करने के लिए खजूर का सेवन किया जा सकता है। खजूर में आयरन के साथ फोलेट की भी अच्छी मात्रा पाई जाती है। जो बच्चों के शरीर में आयरन की कमी पूरी कर सकता है।

आंखों के लिए अच्छा –
बच्चों की आंखों के लिए खजूर बेहद फायदेमंद माना जाता है। खजूर में मौजूद विटामिन ए आंखों की रोशनी बढ़ाने में बेहद उपयोगी होता है।

दिमाग का विकास-
मस्तिष्क के विकास के लिए खजूर का सेवन अच्छा विकल्प है। यह बच्चों में याददाश्त की गड़बड़ी, तंत्रिका संबंधी समस्याओं को दूर करने के साथ अल्जाइमर की समस्या से भी बचाए रखने में मदद करता है।

इम्यूनिटी बनाए बेहतर-
खजूर का सेवन करने से प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाया जा सकता है। यह इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाकर उसके कार्य में सुधार लाता है।

बच्चे को खजूर खिलाते समय ध्यान रखें ये बातें-
-बच्चों को अधिक मात्रा में खजूर न खिलाएं।
-बच्चे को खजूर खिलाने से पहले उन्हें अच्छी तरह धो लें।
-बच्चों को खजूर खिलाने से पहले उसके छोटे-छोटे टुकड़े या फिर उसे हाथों से मसल कर ही बच्चों को खिलाएं।
-शिशु के लिए पके हुए खजूरों का चुनाव करें।
-बच्चों को खजूर खाने से पहले उसके बीज निकालें।
-अगर आपका बच्चा खूजर खाने के बाद उल्टी कर दे तो अगली बार उसे खजूर डॉक्टर की सलाह लेने के बाद ही खिलाएं।

छोटे बच्चों को इस तरह खिलाएं खजूर-
छोटे बच्चों के लिए पके खजूरों का ही उपयोग करें। बच्चे को खजूर खिलाने से पहले आप खजूर को रात भर भिगोकर रख दें। अगले दिन उनके बीज निकालें। अब खजूरों को पीसकर उसकी प्यूरी बनाएं और बच्चों को पिलाएं। खजूर की फ्यूरी को टेस्टी बनाने के लिए आप केले का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसके लिए खजूर को पीसते समय उसमें केले के कुछ टुकड़े भी मिला दें। ऐसा करने से खजूर की फ्यूरी का स्वाद और पौष्टिकता दोनों बढ़ जाएगी।

Disclaimer- इस आलेख में दी गई जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

इस आर्टिकल को शेयर करें

Leave A Reply

Your email address will not be published.

x

COVID-19

India
Confirmed: 31,812,114Deaths: 426,290
x

COVID-19

World
Confirmed: 199,970,282Deaths: 4,254,155