Aawaz24 News
Aawaz24.com

BREAKING NEWS

किसान सम्मान निधि के सत्यापन में भी मिले 969 अपात्र

0 87,580

शादी अनुदान, पारिवारिक लाभ और कन्या सुमंगला योजना में अपात्रों द्वारा फर्जी तरीके से आवेदन करने और योजना का लाभ लेने के खुलासे के बाद अब पीएम किसान सम्मान निधि योजना में भी फर्जीवाड़ा मिला है। इसमें योजना के पिछले दो वर्ष के 33463 लाभर्थियों को रेंडमली छांटकर कराए गए सत्यापन में 969 अपात्र मिले हैं।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत पिछले साल 2.29 लाख और इस बार 2.20 लाख सम्मान निधि का लाभ पाने में सफल रहे हैं। लाभार्थियों की पात्रता की जांच करने के लिए कृषि विभाग ने पिछले वर्ष के पांच फीसदी यानी 11423 और इस साल के दस फीसदी यानी 22040 का सत्यापन कराया गया था। इनमें से पिछले साल के लाभार्थियों में 460 और इस साल के 509 अपात्रों के खाते में सम्मान निधि जाने का खुलासा हुआ है।

सरकारी नौकरी वालों के बैंक खातों में जा रही थी पेंशन
सरसौल के रामसेवक और मौजीलाल सरकारी कर्मचारी हैं। इनके खातों में सम्मान निधि जा रही थी। जांच के बाद इनके खातों पर रोक लगा दी गई है। ऐसे ही कल्याणपुर ब्लॉक के लक्ष्मीकांत और जगलाल भी सम्मान निधि का लाभ लेते मिले। जबकि वह सेवानिवृत्त कर्मचारी हैं। फर्जीवाड़े में घाटमपुर की रोशनी,राजरानी और अनुष्का पति के साथ उसी एक बीघा भूमि पर सम्मान निधि ले रहीं थीं। जिस पर मालिकाना हक दिखाकर उनके पति सम्मान निधि ले रहे हैं। बहलोलपुर की रेखा,बीहूपुर के रघुवीर सचान और बेदीपुर की उमा देवी की मौत के बाद भी इनके खाते में सम्मान निधि जा रही थी। उपनिदेशक कृषि धीरेन्द्र सिंह ने बताया कि इन सभी अपात्रों से सम्मान निधि की वसूली की जाएगी। इसपर रोक के लिए बैंकों को पत्र लिखा गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

x

COVID-19

India
Confirmed: 31,769,132Deaths: 425,757
x

COVID-19

World
Confirmed: 199,593,285Deaths: 4,249,005