Aawaz24 News
Aawaz24.com

BREAKING NEWS

कागज छीनकर फाड़े जाने से भड़के वैष्णव, बोले- बंगाल में TMC की हिंसा की संस्कृति है, वही संसद में लाना चाहते हैं

0 566,608

बीते गुरुवार को राज्यसभा में टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने ‘पेगासस प्रोजेक्ट’ रिपोर्ट पर बयान पढ़ रहे आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव के हाथ से कागज छीनकर फाड़ दिया था। मामले पर अब अश्विनी वैष्णव ने कहा है कि बंगाल में टीएमसी की हिंसा की संस्कृति है। वे इसे संसद में लाने की कोशिश कर रहे हैं। वे अगली पीढ़ी के सांसदों को क्या संदेश देना चाहते हैं?”

पूरे सत्र के लिए सस्पेंड हुए शांतनु
इधर, इस सब के चलते शांतनु सेन को सस्पेंड कर दिया गया है यानी सेन अब मॉनसून सत्र की कार्यवाही में हिस्सा नहीं ले पाएंगे। सस्पेंशन के बाद राज्यसभा के सभापति ने उन्हें बाहर जाने के लिए कहा दिया। सदन की बैठक शुरू होने पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने कल को हुई घटना का जिक्र किया और इसे अशोभनीय बताया। सभापति ने कहा कि कल जो कुछ हुआ, निश्चित रूप से उससे सदन की गरिमा प्रभावित हुई।

IT मंत्री से छीनकर फाड़ा था कागज
दरअसल, गुरुवार को दो बार के स्थगन के बाद दोपहर दो बजे जैसे ही सदन की कार्यवाही आरंभ हुई, उपसभापति हरिवंश ने बयान देने के लिए वैष्णव का नाम पुकारा। इसी समय, तृणमूल कांग्रेस और कुछ विपक्षी दल के सदस्य हंगामा करते हुए आसन के समीप आ गए तथा नारेबाजी करने लगे। इसी बीच, तृणमूल कांग्रेस के सदस्य शांतनु सेन ने केंद्रीय मंत्री के हाथों से बयान की प्रति छीन ली और उसके टुकड़े कर हवा में लहरा दिया। इस स्थिति में वैष्णव ने बयान की प्रति सदन के पटल पर रख दी। वैष्णव उस समय राज्य सभा में पेगासस सॉफ्टवेयर के जरिए जासूसी करने संबंधी खबरों और इस मामले में विपक्ष के आरोपों पर बयान दे रहे थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

x

COVID-19

India
Confirmed: 33,448,163Deaths: 444,838
x

COVID-19

World
Confirmed: 227,865,874Deaths: 4,682,908