Aawaz24 News
Aawaz24.com

BREAKING NEWS

कोरोना से पति की मौत के बाद देवर ने किया रेप, पुलिस से शिकायत पर बेरहमी से पीटा

0 7,777,687

कानपुर के कल्याणपुर क्षेत्र में एक महिला पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। पहले उसके पति की कोरोना से मौत हो गई। उसके बाद देवर ने रेप किया और पुलिस से शिकायत पर महिला को बेरहमी से पीटा। डीसीपी पश्चिम के आदेश पर आरोपी देवर के खिलाफ रेप और मारपीट का मुकदमा दर्ज किया गया।

विनायकपुर सुदर्शन हाउसिंग सोसाइटी निवासी महिला ने बताया कि उसकी शादी 9 दिसम्बर 2012 को हुई थी। कोरोना की दूसरी लहर में 26 मई को पति की मौत हो गई थी। पीड़िता के मुताबिक पति की तेहरवीं के बाद चारों ननद और ननदोई ने उससे कहा कि तुम देवर से शादी कर लो जिससे तुम्हें और तुम्हारे बच्चे को घर मिल जाएगा। पीड़िता के विरोध करने पर ससुराल वालों ने उसे डराया धमकाया और देवर ने पीटा। 26 जून की रात लगभग एक बजे पीड़िता गुरुदेव चौकी पहुंची मगर वहां कोई नहीं मिला। उसके बाद ससुराल वालों ने उसे खोजा और माफी मांग ली। पीड़िता का आरोप है कि 29 जून को देवर ने उसके साथ रेप की घटना को अंजाम दिया। उसके बाद ससुराल वालों ने मिलकर उसे बेरहमी से पीटा।

8 जुलाई को पुलिस के बिगड़े बोल
पीड़िता का आरोप है कि 8 जुलाई को देवर ने फिर से रेप करने का प्रयास किया तब पीड़िता ने 112 पर डायल कर पुलिस को बुलाया। पुलिस उसे कल्याणपुर थाने ले आई। वहां से दरोगा उसे गुरुदेव चौकी ले गया। वहां पर दरोगा ने उससे कहा कि विधवा औरत हो तुम, ठीक से रहो, देवर से शादी कर लो। तुम्हारा जीवन ठीक रहेगा। इतना सब कहा मगर रिपोर्ट नहीं लिखी। इसके बाद फिर जब वह घर गई तो ससुराल वालों ने पीटा।

हस्तक्षेप के बाद एफआईआर
महिला आयोग की सदस्य के सामने पेश होने के साथ पीड़िता डीसीपी पश्चिम संजीव त्यागी से मिली। इसके बाद कल्याणपुर थाने में 3 अगस्त को नौ आरोपित जिनमें राजेश गुप्ता देवर, राम दुलारी गुप्ता, माधुरी गुप्ता, सरिता गुप्ता, ननदोई अरुण गुप्ता, राज कुमारी गुप्ता, ननदोई अखिलेश गुप्ता, अमन गुप्ता और सलता गुप्ता के खिलाफ रेप, गम्भीर चोट पहुंचाना, मारपीट, जान से मारने की धमकी देने की धारा में एफआईआर दर्ज कर ली।

पुलिस की एक कहानी यह भी
पुलिस की प्राथमिक जांच में संपत्ति विवाद सामने आया है। पुलिस के मुताबिक देवर ने बयान दर्ज कराया है कि पीड़िता और उसके भाई के बीच विवाद था। दोनों के एक बेटा है, जो विकलांग है। भाई ने मरने से पहले उसके नाम घर का रजिस्टर्ड बैनामा किया था। साथ ही कहा था कि घर किसी कीमत पर मेरी पत्नी को न दिया जाए। बच्चा बड़ा हो जाए तो उसके नाम कर देना।

पारिवारिक विवाद सामने आया
प्राथमिक जांच में पारिवारिक विवाद सामने आया है। महिला की तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। पुलिस पूरे मामले में जांच कर रही है। जांच के बाद साक्ष्यों के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।
संजीव त्यागी, डीसीपी पश्चिम

Leave A Reply

Your email address will not be published.

x

COVID-19

India
Confirmed: 33,448,163Deaths: 444,838
x

COVID-19

World
Confirmed: 227,865,874Deaths: 4,682,908