Aawaz24 News
Aawaz24.com

BREAKING NEWS

गया के बुजुर्ग ने 10 दिन तक वेंटिलेटर पर रहकर कोरोना को हराया, ऐसे जीती जंग

0 58,949

70 वर्षीय सेवानिवृत्त प्रिंसिपल रविंद्र नाथ सिंह 17 दिनों तक आईसीयू और 10 दिन तक वेंटिलेटर पर रहकर कोरोना को हरा दिया। अपने जज्बे और आत्मविश्वास के बल पर अब वह स्वस्थ हैं। डॉक्टर भी उनकी जिंदादिली के कायल हो गए। मूलरूप से बिहार के गया निवासी रविंद्र नाथ सिंह 8 अप्रैल को बेटा-बेटी से मिलने के लिए नोएडा आए। यहां आने के बाद उन्हें ठंड लगी और बुखार महसूस हुआ। 13 अप्रैल को परिवार के सभी सदस्य बुखार से पीड़ित हो गए। सभी ने कोरोना जांच करवाई और रविंद्र नाथ सिंह और उनके बेटे विनीत कुमार पॉजिटिव हो गए।  पत्नी और बेटी निगेटिव रहे।

ऑक्सीजन लेवल घटने पर रविंद्र को 17 अप्रैल को नोएडा के निजी अस्पताल में ले जाया गया। वहां जरूरी जांच हुई और किसी और अस्पताल में भर्ती करवाने के लिए कहा गया। 19 अप्रैल को ऑक्सीजन लेवल 80 होने पर उन्हें शारदा अस्पताल में भर्ती कराया गया। वह 10 दिन तक वेंटीलेटर पर रहे। 1 मई को उनका आरटीपीसीआर निगेटिव आया। इसके बावजूद तकलीफ बनी रही। 18 मई की सुबह 10 तक वह आईसीयू में रहे। अब सामान्य वार्ड में आ गए।

रविंद्र नाथ सिंह ने बताया कि कोरोना से तो ठीक होना ही था। वह हमेशा पॉजिटिव रहे, कभी निराश नहीं हुए। सांस लेने में तकलीफ थी। यहां के डॉक्टरों ने बेटे की तरह सेवा की। वार्ड में तैनात अन्य कर्मचारी भी हमेशा सेवा में लगे रहे। इसी का परिणाम है कि वह बिल्कुल स्वस्थ हैं। वर्ल्ड बैंक में कंसलटेंट उनके बेटे विनीत कुमार ने बताया कि डीएम की मदद से उन्हें अस्पताल में बेड मिला। डॉक्टरों की मेहनत और भगवान की कृपा से वह अब स्वस्थ हैं। शारदा अस्पताल के डॉ. ए के गडपाइले ने बताया कि कोरोना होने के बाद उनको निमोनिया हो गया। उन्हें 10 दिन तक वेंटिलेटर पर रखा गया।

रविंद्र नाथ सिंह ने कहा कि इस बीमारी से घबराना नहीं है, बल्कि मुकाबला करना है। जब वह बुजुर्ग होकर स्वस्थ हो सकते हैं तो जवान और बच्चे तो जल्द स्वस्थ होंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

x

COVID-19

India
Confirmed: 34,624,360Deaths: 470,530
x

COVID-19

World
Confirmed: 264,992,230Deaths: 5,244,896