Connect with us

Published

on

अब गाड़ी के खरीदते समय या खरीदने से पहले मनपसंद नंबर ऑनलाइन ढूंढ सकते हैं तथा बुक करवा सकते हैं

– लाॅकडाउन के बाद फैंसी नंबर और च्वाइस नंबर की बुकिंग कराने वालों की संख्या में आयी तेजी।

– सितंबर 2020 से नवंबर 2020 में हर माह 200 से अधिक लोग फैंसी नंबर के लिए करा रहे हैं आॅनलाइन बुकिंग।

– एक अप्रैल 2020 से दो दिसंबर 2020 तक राज्य में 1008 लोगों ने बुक कराया फैंसी नंबर।

– पटना में सबसे अधिक 487 लोगों ने बुक कराया फैंसी नंबर।

– 0001, 0007, 4141, 0123, 0021, 5151, 9999, 8058, 9909, 9925,9990 आदि इन
नंबर को सबसे अधिक पसंद किया जा रहा है।

– 8 माह में फैंसी नंबरों की बुकिंग से राजस्व के रुप में परिवहन विभाग को प्राप्त हुए लगभग 2 करोड़ 48 रुपए।

– परिवहन सचिव श्री संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि एक से अधिक दावेदार होने पर फैंसी नंबरों के लिए आॅनलाईन बोली लगाई जाती है।

– एक जिले में पसंद के नंबर नहीं है तो दूसरे जिले में नंबर बुकिंग के लिए करा सकते हैं रजिस्ट्रेशन।

– निजी वाहन और व्यवसायिक वाहन के लिए बेस रेट की अलग-अलग दर की गई है निर्धारित।
…………………………………….

अपने वाहनों के फैंसी नंबर और च्वाइस नंबर की चाहत रखने वाले शौकिनों की संख्या में इजाफा हुआ है। गाड़ियों के मनपसंद नंबर पाने वालों की संख्या 7 माह में 1000 से ऊपर पहुँच गई है। 1000 से अधिक लोगों ने राज्यभर में फैंसी नंबर के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है। इसमें सबसे अधिक पटना जिले में कुल 487 लोगों ने फैंसी नंबर लिया है।

परिवहन सचिव श्री संजय कुमार अग्रवाल ने बताया कि अब गाड़ी के खरीदते समय या खरीदने से पहले मनपसंद नंबर ऑनलाइन ढूंढ सकते हैं तथा बुक करवा सकते हैं।

फैंसी नंबर के शौकिनों को राहत देते हुए रेट रिवाइज किया गया था, जिसके बाद फैंसी नंबर के लिए रजिस्ट्रेशन करने वालों की संख्या में वृद्धि हुई है। खासकर लाॅक डाउन के बाद फैंसी नंबर और च्वाइस नंबर की बुकिंग कराने वालों की संख्या में तेजी आयी है। सितंबर 2020 से नवंबर माह तक हर महीने 200 से अधिक लोगों ने फैंसी नंबर के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है।

फैंसी नंबर 0001, 0007, 0009, 4141 0123, 0021, 5151, 9999 और च्वाइस नंबर 8058, 9909, 9925 और 9990 नंबरों के लिए सबसे अधिक दावेदार आ रहे हैं। इन सभी नंबर लोगों द्वारा सबसे ज्यादा पसंद किये जा रहे हैं।

परिवहन विभाग ने फैंसी नंबर और लकी नंबर की बढ़ते डिमांड को देखते हुए आॅनलाइन व्यवस्था शुरु की है। अब लोगों को घर बैठे आॅनलाइन फैंसी नंबर, मनपसंद नंबर की बुकिंग की सुविधा दी जा रही है। फैंसी नंबर हेतु निर्धारित प्रक्रिया को अपनाते हुए पोर्टल के द्वारा नीलामी प्रक्रिया में भाग लिया जा सकता है। नंबरों की ई नीलामी होने से न सिर्फ विभाग को राजस्व की प्राप्ति हो रही है, बल्कि लोगों को आसानी से मनचाहा नंबर भी प्राप्त हो रहा है।

परिवहन सचिव ने बताया कि कार, बाइक या अन्य गाड़ियों के लिए फैंसी नंबर और मनपसंद का नंबर पाने के लिए पहले रजिस्ट्रेशन कराना होता है। फैंसी नंबर में एक ही नंबर के लिए एक से अधिक दावेदार होने की स्थिति में बोली लगती है और अधिकतम बोली लगाने वाले को वह नंबर दिया जाता है। पूरी प्रक्रिया पारदर्शी है तथा आवेदक बोली एवं निष्कर्ष को स्वयं भाग लेकर देख सकते हैं।

फैंसी नंबर 0001, 0003, 0005, 0007, 0009 के लिए गैर परिवहन वाहन हेतु आधार शुल्क 1 लाख रुपए, जबकि परिवहन वाहन हेतु आधार शुल्क 35000 रुपया रखा गया है।

फैंसी नंबर 0002, 0004, 0006, 0008, 0010, 0011, 0022,0033, 0044, 0055, 0066, 0077, 0088, 0099, 0111, 0222, 0333, 0444, 0555, 0666, 0777, 0888, 0999, 1000, 1001, 1111, 2222, 3333, 4444, 5555, 6666, 7777, 8888, 9999, 2000, 3000, 4000, 5000, 6000, 7000, 8000, 9000, 0020, 0030, 0040, 0050, 0060, 0070, 0080, 0090 इन नंबरों के लिए गैर परिवहन वाहन हेतु आधार शुल्क 60 हजार रुपए, जबकि परिवहन वाहन हेतु आधार शुल्क 20 हजार रुपया किया गया है।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताजा खबर

महाप्रबंधक,एकादश ने मंडल रेल प्रबंधक, एकादश को चार विकटों से किया पराजित।

Published

on

आज दिनांक 5.12.2020 को जगजीवन स्टेडियम, खगौल में जी.एम. इलेवन एवं डी.आर.एम इलेवन के बीच 20-20 प्रदर्शनी क्रिकेट मैच खेला गया।
जिसका उद्धाटन संयुक्त रूप से गुब्बारा उङाकर, श्री ललित चन्द्र त्रिवेदी/महाप्रबंधक एवं श्रीमति कौमुदी त्रिवेदी,अध्यक्षा/पूर्व मध्य रेल महिला कल्याण संगठन/हाजीपुर ने किया।
जी.एम. इलेवन की टीम ने इस मैच को चार विकट से जीत लिया।
डी.आर.एम. इलेवन के कप्तान सह मंडल रेल प्रबंधक श्री सुनील कुमार ने टॉस जीता तथा पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया; पहले ओवर के तीसरे गेंद पर ही दानापुर टीम के कप्तान श्री सुनील कुमार ने महाप्रबंधक इलेवन के टीम के बल्लेबाज श्री राजेश कुमार को बोल्ड कर दिया।
वहीं जी.एम.इलेवन की टीम निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 207 रन बनाये,जिसमें टीम के कप्तान, श्री ललित चन्द्र त्रिवेदी का 11 रनों एवं मो.इकबाल के 41 बाॅल पर शतक तथा श्री अशोक कुमार का 21 बाॅल पर तीस रनों अहम योगदान रहा।
अपने कप्तान के निर्णय को सही साबित करते हुए स्पीन गेंदबाज श्री सत्येन्द्र कुमार , ने शानदार गेंदबाजी करते हुए डी.आर.एम. इलेवन की टीम के दो बल्लेबाजों को आउट किया तथा निर्धारित 20 ओवरों में उनके स्कोर को 118 रनों पर रोक दिया।
डी.आर.एम. इलेवन की ओर से श्री पंकज कुमार ने 17 बाॅल पर शानदार 40 रनों तथा श्री सुनील कुमार, मंडल रेल प्रबंधक ने 28 रनों की पारी खेली तथा श्री राजीव रंजन ने 03 ओवर फेंककर 03 विकेट लिया।
मैच में श्री ए.के.मिश्रा, प्रमुख मुख्य यांत्रिक इन्जीनियर/हाजीपुर को मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया। जिन्होंने मैच में सर्वाधिक 6 विकेट लिया।
मैच के मुख्य अतिथि श्री ललित चन्द्र त्रिवेदी, महाप्रबंधक/पूर्व मध्य रेल/हाजीपुर ने विजेता तथा उपविजेता टीम के खिलाड़ियों को पुरस्कृत कर हौसला बढ़ाया तथा कहा कि जीवन में फिटनेस के लिए खेल-कुद अति आवश्यक है।
श्री दिलीप कुमार ने बेहतरीन कमेन्ट्री करके खेल के माहौल को जानदार बना दिया।
एम्पायर श्री राकेश सिन्हा एवं श्री अमिताभ पालित तथा स्कोरर की भूमिका में श्री अमलेश कुमार रहे।
मौके पर महिला कल्याण संगठन/दानापुर की अध्यक्षा श्रीमति सुप्रिया सहित सभी सदस्याएँ की गरिमामयी उपस्थिति के साथ-साथ मुख्यालय एवं मंडल के सभी अधिकारी उपस्थित हुए।
खेल का आयोजन श्री राहुल कुमार राय/मंडल क्रीङा अधिकारी के निर्देशन में मंडल क्रीङा संघ/दानापुर ने किया।
बेहतरीन आयोजन के लिए श्री ललित चन्द्र त्रिवेदी महाप्रबंधक/हाजीपुर के द्वारा मंडल क्रीङा संघ/दानापुर की सराहना करते हुए पुरस्कृत किये ।

Continue Reading

ताजा खबर

फोटो कैप्शन: पंचकोशी परिक्रमा यात्रा का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शुभारंभ करते केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे।

Published

on

वीडियो कैप्शन: केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रसिद्ध पंचकोशी परिक्रमा यात्रा का किया शुभारंभ

बक्सर में पराक्रमी रूप में भगवान श्री राम की विश्व की श्रेष्ठतम मूर्तियों में से एक की होगी स्थापना: अश्विनी चौबे

प्रसिद्ध पंचकोशी परिक्रमा यात्रा के शुभारंभ पर केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री चौबे ने की घोषणा

पटना, 5 दिसंबर 2020

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा कि विश्व में मौजूदा समय में जितने भी भगवान श्री राम की श्रेष्ठतम मूर्ति है, उसमें से एक पराक्रमी भगवान राम का रूप दिखाते हुए श्रेष्ठतम मूर्ति बक्सर में स्थापित होगी। अंतर्राष्ट्रीय अध्ययन एवं पर्यटन केंद्र के रूप में भगवान श्री राम की प्रशिक्षण एवं पराक्रम स्थली बक्सर को विशेष स्थान दिलाया जाएगा। इसकी रूपरेखा पर प्रारंभिक स्तर पर विचार-विमर्श का दौर शुरू हो गया है। इसे ध्यान में रखते हुए प्रस्तावित श्रीराम कर्मभूमि सिद्धाश्रम चेतना मंच की संरचना की गई है। इसमें देश भर के साधु-संतों को मार्गदर्शक मंडल में आमंत्रित किया जाएगा।

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने इसकी घोषणा प्रसिद्ध पंचकोशी परिक्रमा यात्रा के शुभारंभ के अवसर पर की। इसका शुभारंभ उन्होंने वर्चुअल माध्यम से किया। जानकारी हो कि यह यात्रा जो मेला का रूप ले लेता है। त्रेतायुग से तब प्रारंभ हुआ जब महर्षि विश्वामित्र अयोध्या से श्री राम व लक्ष्मण जी को लाए और उनके द्वारा इस बक्सर जिले को ताड़का राक्षसी व मारीच, सुबाहु के आतंक से सिद्धाश्रम को मुक्त कराया। इसी दौरान भगवान श्रीराम व लक्ष्मण जी ने साधु संतो के मंडली साथ परिक्रमा किए। इस दौरान भक्तों ने पकवान आदि से उनका स्वागत किया था। कार्यक्रम का आयोजन सिद्धाश्रम व्याघ्रसर पंचकोशी परिक्रमा समिति द्वारा किया गया। साधु संतों के मार्गदर्शन में श्री राम रेखा घाट पर मां गंगा की आरती एवं जयघोष के साथ पंचकोशी परिक्रमा यात्रा का शुभारंभ हुआ।

श्रेष्ठतम मूर्ति बनेगी, अंतर्राष्ट्रीय स्तर का अध्ययन केंद्र एवं विशाल यज्ञ मंडप होगा

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री चौबे ने वर्चुअल माध्यम से लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने अक्षय नवमी के अवसर पर सपरिवार एवं बंधु बांधव के साथ संकल्प लिया था कि बक्सर भगवान श्री राम की प्रशिक्षण स्थली एवं पराक्रम की भूमि रही है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बक्सर को पहचान दिलाया जाएगा। इस शहर को रामायण सर्किट से पहले ही शामिल कर लिया गया है। कोरोना काल से पहले बड़ी संख्या में रामायण ट्रेन से दक्षिण भारत से भी लोग यहां भगवान श्रीराम से जुड़े स्थलों को देखने एवं दर्शन को आए थे। राक्षसों का वध करते हुए भगवान श्री राम जिनके हाथ में धनुष बाण होगा, इस परिकल्पना के साथ विश्व की श्रेष्ठतम मूर्ति मां गंगा के सामने स्थापित की जाएगी।
इसके साथ दूसरा संकल्प यह है कि यहां पर विशाल यज्ञ मंडप का निर्माण होगा, जिसमें 24 घंटे हवन एवं अग्नि प्रज्वलित होती रहेगी। सतयुग के समय से ही यहां पर ऋषि मुनि तपस्या यज्ञ आदि करते थे।

उन्होंने तीसरा संकल्प बताते हुए कहा कि भगवान श्री राम के बाल्यकाल से लेकर उनके जीवन के विभिन्न पहलुओं को झांकी में पिरो कर दुनिया का कलात्मक म्यूजियम तैयार किया जाएगा, जो एक अंतरराष्ट्रीय अध्ययन केंद्र के रूप में जाना जाएगा इसकी भी परिकल्पना की गई है। जिसे सभी के सहयोग व भगवान के आशीर्वाद से संकल्प से सिद्धि की ओर ले जाया जाएगा।

राज्य मेला प्राधिकरण में किया जाएगा शामिल

इस मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा कि पंचकोशी परिक्रमा यात्रा को बिहार मेला प्राधिकरण में शामिल करवाया जाएगा। ताकि मेला के लिए पर्याप्त फंड उपलब्ध हो सके। इस अवसर पर प्रस्तावित श्रीराम कर्मभूमि सिद्धाश्रम चेतना रथ का भी उन्होंने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। पंचकोशी यात्रा के दौरान इसके माध्यम से सेमिनार एवं जागरूकता अभियान आदि का आयोजन किया जाएगा। श्रीराम से जुड़े स्थलों के बारे में जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री चौबे ने कहां की प्रस्तावित श्री राम कर्मभूमि सिद्धाश्रम चेतना को श्री राम जन्म भूमि न्यास के तर्ज पर गठन भविष्य में किया जाएगा। इसमें देशभर के साधु-संतों, समाजिक कार्यकर्ताओं, आध्यात्मिक जगत से जुड़े हुए विद्वान गणों को आमंत्रित किया जाएगा।

सधन्यवाद,

Continue Reading

ताजा खबर

बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय में मंत्री मुकेश सहनी ने दौरा कर कहा – विकास कार्य ही लक्ष्य

Published

on

पटना: पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग, बिहार मुकेश सहनी के सम्मान में आज बिहार पशु विज्ञान विश्वविद्यालय ,पटना के सभागार कक्ष में स्वागत समारोह का आयोजन किया गया है। इस दौरान मुकेश सहनी ने पशु चिकित्सालय तथा परिसर का भ्रमण किया। बाद में उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि हम जमीन से जुड़े लोग हैं। हमने संघर्ष किया है और आगे भी संघर्ष करेंगे। यह विश्वविद्यालय हमारे विभाग में आता है, इसलिए हमारा लक्ष्य है इसकी उन्नति हो। उन्होंने कहा कि बिहार में आदरणीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी की अगुवाई में एनडीए सरकार का एक मात्र लक्ष्य विकास कार्य ही है।

मुकेश सहनी ने विश्वविद्यालय के वरीय पदाधिकारियों से कहा कि हम अपने विभाग को काम के बदौलत आगे ले जाना चाहते हैं। खुद मुख्यमंत्री जी की भी इस पर नज़र है। हम आपसे भी अपील करते हैं कि जो भी परेशानी हो वो आप हमसे कहें। इससे पहले कार्यक्रम को पशु चिकित्सा महाविद्यालय, पटना के कुलपति डॉ० रामेशवर सिंह का सम्बोधन हुआ, जिन्होंने मंत्री मुकेश सहनी से विश्वविद्यालय के बारे में जानकारी दी। स्वागत भाषण विवि के अधिष्ठाता डॉ० जे०के० प्रसाद ने किया। बाद में धन्यवाद ज्ञापन कुलसचिव डॉ० एस.के. गर्ग ने किया।

Continue Reading
Advertisement

Trending